About Us

हमारी वेबसाइट BabaBlogging.com पर आपका स्वागत है

भारत की पोपुलर हिन्दी वैबसाइट में से एक जिसका लक्ष्य भारत के हर व्यक्ति को इंटरनेट की दुनिया का ज्ञान देना है Technology से जोड़ना ओर इंडिया में हिन्दी को बढ़ावा देना है

जब हम इंटरनेट की दुनिया में आए थे तब हमें बहुत कठिनाइया आई क्यूंकी इंटरनेट पर जो भी था सब कुछ अंग्रेजी भासा में था जिससे हमें बहुत तकलीफ़े जेलनी पड़ी थी तब हमारे दिमाग में आया की अगर इतनी कठिनाइया हमे हो रही है तो इंडिया में बहुत लोग है जो आज भासा की वजह से ही पीछे है तब हमने फैसला लिया की क्यू न हम इंटरनेट की जानकारी हिन्दी में दे जिससे हर छात्र हर व्यक्ति इंटरनेट को समझ सकें ओर इसका उपयोग करना शुरू कर दे इसी तरह हमने BabaBlogging एक हिन्दी ब्लॉग स्टार्ट किया जिससे हर कोई इंटरनेट का उपयोग कर सके

इस वैबसाइट के द्वारा आपको ब्लॉगिंग का पूरा ज्ञान हिन्दी भाषा मे मिलेगा जिससे आप भी आने वाले समय में अच्छे पैसे कमाने वाला एक ब्लॉग शुरू कर सकते है ओर हम कोन-कोनसी Tools का उपयोग करते है ओर उनका उपयोग कैसे किया जाता है सबकुछ सिम्पल & शॉर्ट भाषा में इस ब्लॉग में मिलेगा हम आपको शुरुआत से लेकर अंत तक सब-कुछ बताएँगे ताकि आप एक ब्लॉग शुरू कर सकते है

इस वैबसाइट के द्वारा हम Technology, Product Review, services, Blogging, SEO, Digital Marketing, Earn Money online, Tips & Tricks जैसी जानकारी हिन्दी में प्रोवाइड करते है

इस वैबसाइट पर हम समय समय पर Article Update करते रहते है जिससे आपको कोई भी नई जानकारी हो आप तक पहुँच जाएगी हमारे साथ जीतने भी लोग काम करते उनका लक्ष्य सिर्फ लोगो की मदद करना है हम किसी भी लाभ के स्तर पर नही है हमें जो भी मिलता है आपलोगो के प्रेम ओर प्यार से मिलता है

BabaBlogging की शुरुआत 25 May 2020 को हुई थी ओर इसमे काम करने वाले हम 2 लोग है हमारा लक्ष्य सिर्फ इंडिया के हर व्यक्ति को इंटरनेट की दुनिया का ज्ञान देना है हम जो भी आपके लिए करते है जो भी जानकारी देते है हम दिल से ओर सही तरीके से आपको समझाने की कोसिस करते है

आपको सबको दिल से धन्यवाद जो आप हमारी वैबसाइट पर आए! उम्मीद करते है आपको हमारी वैबसाइट पसंद आई इसी तरह आप प्यार बनाए रखे हम आपकी मदद करेगे आप हमारी मदद करे ताकि साथ आसमान छूएगे क्यूकी जो लाइफ मिली है उसी मे  हमें कुछ ऐसा करना है ताकि लोग हम-सब को याद करे क्यूकी  एक कहावत तो सुनी ही होगी – कल हो न हो